Bharatiy Jyotish

ज्योतिष एक समाधान !! ज्योतिष उपाय, आयुर्वेदिक, वास्तु शास्त्र, अंक ज्योतिष, आरती, चालीसा

रोग से मुक्ति के उपाय !! Rog Se Mukti Ke Upay

रोग से मुक्ति के उपाय [ Rog Se Mukti Ke Upay ] : 

यदि आप या आपके घर पर कोई ना कोई हर वक़्त बीमारी से परेशान रहता है तो हम आपके लिए रोह मुक्ति उपाय बताने जा रहे है इन उपाय को आप विश्वास के साथ कीजिये साथ ही साथ आप कर्म भी करना बहुत जरुरी है मतलब की डॉक्टर से परामर्श से दवाई लेना !! कर्म और उपाय दोनों एक साथ करने से आप बहुत जल्द अपनी बीमारी से छुटकारा पा सकते है इसलिए पंडित ललित ब्राह्मण आपको कुछ रोग मुक्ति, रोग निवारण के उपाय बताने जा रहे है जिन्हें आप बहुत ही आसानी से अपने घर पर खुद ही कर सकते हो असर आप स्वयं खुद ही देखने को मिलेगा !! एक बात याद रखना कर्म प्रदान होता है ज्योतिष कोई भगवान नही है अपितु यह एक आपके भविष्य की राह दिखता है !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 7821878500

  • लाल चंदन की माला से सूर्यदेव के मंत्र का जप प्रतिदिन 108 बार करें। इससे चर्म रोग में राहत मिलती है।  मंत्र- ऊँ ह्रीं घृणीं सूर्य आदित्याय नम: 
  • किसी को मिरगी का रोग हो तो सूर्य यंत्र का निर्माण करके उसे धारण करने तथा नियमित सूर्य मंत्र का जप करने से लाभ होता है। मंत्र- ऊँ ह्रीं घृणीं सूर्य आदित्याय नम: 
  • मिर्गी के रोग [ Mirgi Ke Rog ] : अगर गधे के दाहिने पैर का नाखून अंगूठी में धारण करें, तो मिर्गी की बीमारी दूर हो जाती है।
  • जायफल में सुराख करके लाल धागे से गले में धारण करने से मिरगी रोग में फायदा मिलता है।
  • लकवा रोग से मुक्ति के लिए मंगल यंत्र के सामने मंगल मंत्र का जप करें तथा 43 दिनों तक लगातार तांबे का एक चौकोर टुकड़ा लकवे से ग्रस्त अंग से स्पर्श कहाकर बहते हुए जल में प्रवाहित करें। इससे लकवा रोगी ठीक हो जाता है।

आगे पढ़े : Bimari Ke Upay : Click Here

  • आधासीसी दर्द से छुटकारा पाने के लिए विधि-विधानपूर्वक बुध यंत्र के सामने बुध मंत्र का जप जप करें। साथ ही बुधवार के दिन गाय को हरी घास खिलाएं। इस प्रयोग से शीघ्र लाभ होता है।
  • गुरु यंत्र के नियमित दर्शन से थॉइराइड रोग में आराम मिलता है।
  • बवासीर रोग से मुक्ति पाने के लिए गुरु यंत्र के सामने गुरु मंत्र का जप करें तथा एक सफेद कागज पर अष्टगंध द्वारा गुरु यंत्र बनाकर नाभि पर बांधने से इस रोग में आराम मिलता है।
  • यदि शिशु माँ के स्तनपान करने के तुतंत बाद ही वमन कर दे, तो उसके समीप तभी कांसे का कोई भी बर्तन बजा दें। इस प्रयोग से वमन का वेग शांत हो जाएगा।
  • रोगी व्यक्ति को पान में गुलाब की सात पंखुडियां खिलाने से अगर उसको कोई नजर लगी है तो उससे छुटकारा मिलता है और दवा भी जल्दी असर करती है ।

  • Join पंडित ललित ब्राह्मण facebook प्रोफाइल : Click Here
  • यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, लाल किताब कुंडली बनवाना चाहते हो या किसी समस्या से परेशान चल रहे हो तो कॉल करें : 7821878500
  • आगे पढ़े : बीमारी के उपाय :  Click Here
Updated: September 5, 2016 — 11:57

Leave a Reply

Bharatiy Jyotish © 2016 Frontier Theme
Translate »
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.